21 May, 2017

तेरी साँसों से मिलकर तेरी खुशबू बन जाऊं


हमारे जीने की वजह बनी है यह मोहब्बत


तेरे जाने के बाद किया है यह महसूस हमने


क्यों इश्क़ में जान लुटा देते हैं लोग


तो एहसास तक नहीं इस मोहब्बत का यारो


किसी को पा लेना कोई बड़ी बात तो नहीं


दोस्त ही होते हैं दोस्तों के हमदर्द


जब जाम मिला बेवफाई का तो


हमसे तो वो याद भी दिल से निकाली नहीं जाती


मोहब्बत है हम दोनों को एक-दूसरे से